राजस्थान हायकोर्ट ने कहा गोवध पर उमर कैद हो और गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाए

और इसके साथ कोर्ट ने यह भी सुझाव दिया कि गोवधपर सजा को बडा कर उमर कैद तक करणा चाहिये

जयपूर : राजस्थान हायकोर्ट ने हिंगोनिया गोशाला के मसले का फैसला सुनाते हुवे सरकार को सुझाव दिया के गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाय. और इसके साथ कोर्ट ने यह भी सुझाव दिया कि गोवधपर सजा को बडा कर उमर कैद तक करणा चाहिये.अभी राज्य मे इसकि सजा तिन साल है.दरअसलमे जयपूर के पास हिंगोनिया गोशाला के लचर प्रबंधन के खिलाफ एक याचिका दायर थी.उस याचिका मे इस गोशाला कि दुर्दशा पर सवाल उठाये गयेथे .वहा के कुप्रबंधन के खिलाफ कि हुवी याचिका पर फैसला सुनाते हुवे राजस्थान हायकोर्ट ने यह टिप्पणी कि .
राजस्थान हायकोर्ट के जजो कि ऐसे वक्त यह टिप्पणी आई है जबके पशु बाजार मे मवेशीयोन्की बिक्री पर केंद्र सरकार ने रोक लगा दि है .इसी मामले मे केंद्र और पश्चिम बंगाल के साथ कई राज्योमे विरोध चल रहा है.

Leave a Reply