एक राजकारणी को पैसो की जरुरत पडी,

                                                                     एक राजकारणी को पैसो की जरुरत पडी,

राजकारणी ने अपने भाजपाई मित्र से ब्याज से पैसे मांगे

तो भाजपाई मित्र ने पूछा पैसे वापस कब दोंगे.

Advertisement

राजकारणी मित्र बोला “राम मंदिर बनने के एक हफ्ते के भितर आपको पैसे मिल जायेंगे”

भाजपाई मित्र भडक गया,और बोला बेवकूफ बना रहा है क्या?

राजकारणी मित्र ने पुछा ,”कौन“?

Advertisement
Support our journalism - Support Sajag Nagrikk Times

Leave a Reply