राजस्थान मुस्लिम महासभा फिल्म पद्मावती के खिलाप मैदान मे,

 सजग नागरिक टाइम्स: राजस्थान मुस्लिम महासभा के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल सलाम सांखला और महामंत्री एडवोकेट शकील अहमद ने विवादित फिल्म पद्मावती के ट्रेलर में मुस्लिम किरदार की छवि क्रूर और दुर्दांत दिखाए जाने पर एतराज किया है। ट्रेलर से प्रतीत होता है कि मुस्लिम किरदार पराई स्त्री को पाने के लिए सामाजिक मर्यादाओं का कत्ल कर रहा है। इससे सम्पूर्ण मुस्लिम समुदाय की छवि पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है। मुस्लिम समुदाय ऐसी फिल्म को कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगा। फिल्म के विरोध के लिए राजस्थान के मुसलमानों को तो एकजुट किया ही जा रहा है। साथ ही देशभर के मुसलमानों को जोड़ कर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। फिल्म के निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली को मुस्लिम समाज की छवि खराब नहीं करने दी जाएगी।महासभा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मांग की है कि वे अपने अधिकारों का इस्तेमाल का इस विवादित फिल्म पर रोक लगवाएं। यह फिल्म हिन्दुओं की ही नहीं बल्कि मुसलमानों की भावनाओं को भी ठेस पहुंचा रही है। निर्माता अपने आर्थिक लाभ की खातिर मुसलमानों की खराब छवि प्रस्तुत कर रहा है। यदि इस फिल्म पर रोक नहीं लगाई तो देशभर में प्रदर्शन किया जाएगा।

[metaslider id=2853]

फिल्म पद्मावती के विरोध में राजपूत और अन्य समाज लगातार विरोध कर रहे हैं, लेकिन इस विरोध का राज्य और केन्द्र की सरकार पर कोई असर नहीं हो रहा। 12 नवम्बर को भी जब अहमदाबाद में राजपूत करणी सेना की ओर से बड़ी रैली की जा रही थी, तब जयपुर में प्रदेश के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने साफ कहा कि फिल्म के रिलीज पर रोक लगाने का अधिकार सरकार के पास नहीं है। इससे पहले भी केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी भी ऐसा ही बयान दे चुकी हैं। लगातार विरोध के बाद भी फिल्म जगत के भस्मासुर संजय लीला भंसाली एक दिसम्बर को ही फिल्म रिलीज करने पर अड़े हुए हैं। भंसाली को उम्मीद है कि सेंसर बोर्ड एक दिसम्बर से पहले पहले सर्टिफिकेट जारी कर देगा। लेकिन राजस्थान मुस्लिम महासभा के भी विरोध में आ जाने से माना जा रहा है कि अब सरकार पर दबाव बड़ेगा। सरकार इस भावना को प्रबल नहीं होने देगी कि फिल्म से मुसलमानों की छवि खराब हो रही है। नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ऐसा संदेश नहीं देना चाहती, जिसमें मुस्लिम समुदाय नाराज हो। मुस्लिम महासभा के आ जाने से अब फिल्म के विरोध की गंभीरता कई गुना बढ़ गई है।
राजपूत समाज में उबालः
फिल्म के ट्रेलर में जिस रानी पद्मावती के किरदार में एक अभिनेत्री को घूमर नृत्य करते हुए दिखाया गया है उस पर राजपूत समाज को भारी एतराज है। राजपूत समाज के प्रतिनिधि सर्वसमाज को जोड़ राजस्थान सहित देशभर में आंदोलन चला रहे हैं। समाज के प्रतिनिधियों को राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे से सहयोग की अधिक अपेक्षा है, क्योंकि राजे भी राजपूत समाज से ही हैं। करणी सेना के एक धड़े ने फिल्म दिखाने वाले सिनेमा घरों में ही आग लगाने की धमकी दी।

न्यूज क्रेडीट ; CARE OF MEDIA news network

 

 

One thought on “राजस्थान मुस्लिम महासभा फिल्म पद्मावती के खिलाप मैदान मे,

Leave a Reply